श्रावण माह (Shravan Month) के कृष्ण पक्ष (Krishna Paksha) के पंचमी तिथि को मौना पंचमी (Mauna panchami) मनाई जाती है, मौना पंचमी सावन माह में पडने वाला एक पविञ त्‍यौहार है, आईये जानते हैं (Mauna panchami ka Mahatva) - मौना पंचमी का महत्व -

Mauna panchami ka Mahatva - मौना पंचमी का महत्व

मौना पंचमी (Mauna panchami) सावन माह में पडती और सावन शिव जी का सबसे प्रिय महीना है, कुछ हिंदू पौराणिक कथाओं (hindu mythology) के अनुसार कुछ जगहों पर मौना पंचमी (Mauna panchami) के‍ दिन सूखे फल, खीर आदि से सर्प देवता (snake god) की पूजा की जाती है। 

ऐसी मान्‍यता है कि मौना पंचमी (Mauna panchami) के दिन नींबू, अनार के साथ-साथ नीम के पत्ते चबाने से शरीर का जहर निकल जाता है। 


मौना पंचमी (Mauna panchami) दिन झारखंड के वैद्यनाथ धाम देवघर (Baidyanath Dham) में प्रसिद्ध श्रावणी मेला (Shravani Mela) का आयोजन किया जाता है।

mona panchmi, Mauna Panchami, Mouna Panchami Vrat and Puja in Shravan, Shravan Panchami


loading...

Post a Comment

1. हिन्‍दी होम टिप्‍स आपके लिये बनाई गयी है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत लेखों के बारे में आपकी विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी सही टिप्‍पणी हिन्‍दी होम टिप्‍स को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।
आप हमें इन सोशल नेटविर्कंग साइट पर भी फॉलो कर सकते हैं -
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का फेसबुक पेज
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का गूगल+ पेज