Ads (728x90)



आश्विन मास के कृष्ण पक्ष की एकादशी (Ekadashi ) जो पितृपक्ष (pitru paksha) में आती है, इसे इंदिरा एकादशी (Indira Ekadashi ) कहते हैं। इंदिरा एकादशी (Indira Ekadashi ) में पितृपक्ष होने के कारण पितरों की मुक्ति के लिए सबसे उत्तम मानी गई है, आईये जानते हैं इंदिरा एकादशी का महत्व - Indira Ekadashi Ka Mahatva -

इंदिरा एकादशी का महत्व - Indira Ekadashi Ka Mahatva

ऐसी मान्‍यता है कि यदि आपके पूूर्वजों को किसी कारण मोक्ष नहीं मिला है तो आप विधिपूर्वक इंदिरा एकादशी का व्रत (Indira Ekadashi Vrat) रख्‍ों और उनके नाम पर दानपुन्‍य करें तो उनको अवश्‍य मोक्ष की प्राप्ति होती है। इंदिरा एकादशी (Indira Ekadashi) के दिन विधि- पूर्वक पूर्वजों का श्राद्ध कर ब्राह्मण को भोजन करायें और गाय को पितरों का दिया अन्‍न खिलायें। इसके बाद भगवान विष्‍णु की पूजा करें। इस दिन भगवान विष्णु की पूजा करने से इन्दिरा एकादशी व्रत सभी प्रकार के कष्टों को दूर करता है।

Tag - Ashwin Krishna Indira Ekadashi Vrat , Indira Ekadashi Vrat




Post a Comment

  1. अच्छी बातें बताने के लिए धन्यवाद।

    ReplyDelete

1. हिन्‍दी होम टिप्‍स आपके लिये बनाई गयी है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत लेखों के बारे में आपकी विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी सही टिप्‍पणी हिन्‍दी होम टिप्‍स को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।
आप हमें इन सोशल नेटविर्कंग साइट पर भी फॉलो कर सकते हैं -
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का फेसबुक पेज
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का गूगल+ पेज