Ads (728x90)



माघ मास (Magha Maas) में पडने वाली अमावस्या (Amavasya) को माघ अमावस्या (Magha Amavasya) या मौनी अमावस्या (Mauni Amavasya) कहते हैं। मौनी अमावस्या (Mauni Amavasya) के दिन  गंगा स्‍नान (ganga snan) का बडा ही महत्‍व होता है (Mauni Amavasya Vrat) बड़ी श्रद्धा से मनाया जाता है। आईये जानते हैं मौनी अमावस्या का महत्‍व (Mauni Amavasya Ka Mahatva) - 

मौनी अमावस्या का महत्‍व - Mauni Amavasya Ka Mahatva

मौनी अमावस्‍या के दिन मौन रहने का भी महत्‍व है, मौनी अमावस्या के दिन स्नान करने के पश्चात्‌ भगवान विष्णु की पूजा की जाती है, हिंदु धर्म के अनुसार सागर मंथन के समय अमृत कलश निकलने पर देव और दानवों के बीच अमृत कलश केे लिये खींचातानी हुई ऐसे में अमृत कलश से अमृत की कुछ बूंदे इलाहाबाद हरिद्वार नासिक और उज्जैन के जल मेंं जा गिरींं, जिससे उनका जल अमृत के समान हो गया अगर इस तिथि को सोमवार होता है तो इसका महत्‍व और भी बढ जाता है और यदि समय महाकुंभ का हो तो फिर महत्व कई गुना बढ़ जाता है। पूरे माघ मास को स्नान मास भी कहा जाता है, इनमें सबसे अधिक महत्वपूर्ण स्नान पर्व अमावस्या का होता है।  मौनी अमावस्या के दिन क्रोध न करें, किसी को अपशब्दों ना बोलें। श्रद्धापूर्वक दान करें, गौ की सेवा करें। 

Tag - mauni amavasya significance, What is the importance of Mauni Amavasya How to do Mauni Amavasya Katha Mahatmya



Post a Comment

1. हिन्‍दी होम टिप्‍स आपके लिये बनाई गयी है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत लेखों के बारे में आपकी विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी सही टिप्‍पणी हिन्‍दी होम टिप्‍स को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।
आप हमें इन सोशल नेटविर्कंग साइट पर भी फॉलो कर सकते हैं -
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का फेसबुक पेज
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का गूगल+ पेज