Ads (728x90)



फाल्गुन मास (Falgun Maas) में कृष्णपक्ष (krishn paksh) की एकादशी को (Ekadashi) विजया एकादशी (Vijaya Ekadashi ) कहते हैं विजया एकादशी (Vijaya Ekadashi) के दिन भगवान विष्णु के अवतार 'श्रीकृष्ण जी' की पूजा की जाती है ऐसा माना जाता है कि विजया एकादशी (Vijaya Ekadashi) के दिन जो भी व्यक्ति सच्चे मन से इस व्रत करता है वह व्यक्ति अपने जीवन की सभी परिस्थितियों पर विजय प्राप्त करता है विजया एकादशी (Vijaya Ekadashi) बहुत ही पुण्यदायी होती है ।तो आइये जानते है - विजया एकादशी का महत्व - Vijaya Ekadashi Ka Mahatva

विजया एकादशी का महत्व - Vijaya Ekadashi Ka Mahatva

विजया एकादशी के दिन सुबह जल्दी उठ स्नान आदि के बाद भगवान विष्णु का नाम लेते हुये\व्रत का संकल्प लेना चाहिए तथा भगवान् विष्णु की धुप, दीप, चन्दन, पुष्प, आदि से पूजा करनी चाहिए. और विष्णु सहस्त्रनाम का पाठ करना चाहिये फल,पंचामृत से भगवान् को भोग लगाये और दूसरे दिन द्वादशी को ब्राह्मणो दान देकर और भोजन कराके आशीर्वाद प्राप्त करे. ऐसा माना जाता है कि जो मनुष्य विधि पूर्वक एकादशी व्रत को पूर्ण करता है उसे पिशाच योनि में जन्म नही लेना पड़ता और भगवान् विष्णु की कृपा से उसे मोक्ष की प्राप्ति हो विजया एकादशी के दिन फलाहार में सिंघाड़े के आटे (indian water chestnut) का प्रयोग करना चाहिये

ऐसा कहा जाता है कि विजया एकादशी के दिन ही भगवान श्री राम लंका पर चढाई करने के लिये समुद्र तट पर पहुंचे. थे.और इसी दिन भगवान श्री राम ने समुद्र देवता से मार्ग देने की प्रार्थना की. परन्तु समुद्र ने जब श्री राम को लंका जाने का मार्ग नहीं दिया तब श्री राम ने फाल्गुण मास की कृष्ण पक्ष की एकादशी का व्रत विधिपूर्वक किया और विजया एकादशी के  व्रत के प्रभाव से समुद्र ने प्रभु राम को मार्ग प्रदान किया और यह व्रत रावण पर विजय प्रदान कराने में मददगार बना. तभी से  एकादशी को विजया एकादशी के नाम से जाना जाता है

Tag-Significance of Vijaya Ekadashi, Vijaya Ekadashi Importance, Puja Vidhi, Significance:Jaya Ekadashi and Vijaya Ekadashi, How to please Lord Krishna on Vijaya Ekadashi, vijaya ekadashi story, vijaya ekadashi in hindi



Post a Comment

1. हिन्‍दी होम टिप्‍स आपके लिये बनाई गयी है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत लेखों के बारे में आपकी विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी सही टिप्‍पणी हिन्‍दी होम टिप्‍स को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।
आप हमें इन सोशल नेटविर्कंग साइट पर भी फॉलो कर सकते हैं -
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का फेसबुक पेज
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का गूगल+ पेज