Ads (728x90)



कार्तिक शुक्ल पक्ष की नवमी अक्षय नवमी (Akshay Navmi )कहलाती है अक्षय नवमी Akshay Navmi ) तिथि को आंवला नवमी  (Amla Navami) कहते हैं इस दिन भगवान विष्णु के पूजन का भी विधान है। इसलिए इस अक्षय नवमी Akshay Navmi ) को इच्छा नवमी भी कहते हैं।ऐसी मान्यता है कार्तिक शुक्ल पक्ष की नवमी से लेकर पूर्णिमा तक भगवान विष्णु आवंले के पेड़ पर निवास करते हैं तो आइये  हैं


Significance Of Akshaya Navami - अक्षय नवमी का महत्व



अक्षय नवमी (Akshay Navmi ) के दिन स्नान, पूजन, तर्पण तथा अन्न दान करने से हर मनोकामना पूरी होती है। अक्षय नवमी के दिन आंवले के वृक्ष की पूजा करने का नियम है। धार्मिक मान्यताओं के अनुसार आंवले का वृक्ष भगवान विष्णु को अतिप्रिय है, क्योंकि इसमें लक्ष्मी का वास होता है। इसलिए इसकी पूजा करना माना विष्णु लक्ष्मी की पूजा करना। 

नवमी के दिन आंवला वृक्ष के नीचे भोजन बनाकर खाने का विशेष महत्व है। यदि आंवला वृक्ष के नीचे भोजन बनाने में असुविधा हो तो घर में भोजन बनाकर आंवला के वृक्ष के नीचे जाकर पूजन करने के बाद भोजन करना चाहिए। भोजन में सुविधानुसार आप कोई भी पकवान बनाकर ला सकती हैं  अक्षय नवमी (Akshay Navmi ) के दिन आंवला जरूर खाएं अक्षय नवमी को आंवला खाने से महर्षि च्यवन को फिर से जवानी यानी नवयौवन प्राप्त हुआ था।ऐसी मान्यता है कि अक्षय नवमी (Akshay Navmi ) को यदि कुंवारी लड़कियां अगर व्रत रखती हैं तो उनका विवाह और विद्यार्थियों को विद्या की प्राप्ति होती है

Tag - About Akshaya Navami, significance of akshaya navami, Amla Navami Or Akshaya Navami, About Akshaya Navami Festival,  amla tree puja in hindi



Post a Comment

1. हिन्‍दी होम टिप्‍स आपके लिये बनाई गयी है।
2. इसलिये हम अापसे यहॉ प्रस्‍तुत लेखों के बारे में आपकी विचार और टिप्‍पणी की अपेक्षा रखते हैं।
3. आपकी सही टिप्‍पणी हिन्‍दी होम टिप्‍स को सुधारने और मजबूत बनाने में हमारी सहायता करेगी।
4. हम आपसे टिप्पणी में सभ्य शब्दों के प्रयोग की अपेक्षा करते हैं।
आप हमें इन सोशल नेटविर्कंग साइट पर भी फॉलो कर सकते हैं -
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का फेसबुक पेज
*हिन्‍दी होम टिप्‍स का गूगल+ पेज